Thursday, 14 June 2018

जब डॉक्टर चड़ाए रक्त तो जानले ये बात वरना पछताएंगे

हमेशा खबर है कि रोगी को झूठे खून से उजागर किया गया है, जो इसकी स्थिति में सुधार के बजाय खराब हो गया है। रक्त की आवश्यकता में कई प्रकार की बीमारियां और सर्जरी होती है। यदि आपके सामने ऐसी कोई स्थिति है या आपको रक्त संक्रमण की आवश्यकता है, तो आपको इन चीजों में से कुछ पर हमेशा नजर रखना चाहिए ...
ध्यान रखें कि हमेशा प्रमाणित रक्त बैंक से रक्त लेने का लाइसेंस हमेशा होता है रक्त अस्पताल लेते समय, यह हमेशा सतर्क रहना चाहिए कि तापमान 4 डिग्री सेल्सियस तक रहता है। इसके लिए थर्मोकॉल या बॉक्स का प्रयोग करें। याद रखें बर्फ को बर्फ से न रखना।

- रक्त लेने के समय बैग पर लिखित समाप्ति तिथि की जांच करें
अगर रक्त लेने के लिए थोड़ा समय लगता है, तो उसे अस्पताल के फ्रिज में डाल दें और उस समय जब रोगी को रक्त की पेशकश की जाती है, तो बैग पर लिखे गए बैग की जांच करें।
एक साफ हाथ के साथ -बड्डी बैग
ध्यान रखें कि बैग में कोई तैनाती नहीं है, क्योंकि यह अक्सर होता है कि प्लाज्मा और लाल कोशिका नीचे जमा की जाती है। ऐसा रक्त चढ़ाई के योग्य नहीं है। यह तापमान परिवर्तन के कारण है।

जब डॉक्टर चड़ाए रक्त तो जानले ये बात वरना पछताएंगे Rating: 4.5 Diposkan Oleh: vickysinghclub@gmail.com

0 comments:

Post a Comment